देश के राष्ट्रीय – ध्वज के प्रति सम्मान जताने के सात आवश्यक ढंग। अपने देश के ध्वज को गर्व के साथ फहराएं।

1. अपने देश के झंडे को जब भी हाथों में थामों तो झंडे को सदैव अपने कंधों से उपर उठाए रखना चाहिए। झंडे को कंधों का सहारा नहीं दें बल्कि उसे मजबूती के साथ हवा में उपर की ओर लहराएं ना कि नीचे की ओर।


2. झंडे को तह करने का भी एक ढंग है उसे अपनाएं। झंडा साधारण कपड़ों की भांति तय नहीं किया जाता है। झंडा लहराने के समय उसे किस प्रकार तय किया जाए इसकी प्रक्रिया के विडियोज आप इंटरनेट पर सरलता से ढूंढ सकते हैं। झंडे का रख – रखाव वैसे ही होना चाहिए जिस प्रकार एक मां अपने नवजात शिशु की देखभाल करती है।


3. देश के झंडे को अपने दोनों हाथों से पकड़ें और सिर के ऊपर ले जाकर भागते हुए लहराएं। ऐसा करने से देश के प्रति आपके सम्मान और प्रेम की अद्भुत अनुभूति आपको निश्चित रूप से होगी।


4. किसी सड़क पर, किसी तारों में उलझे हुए या फिर कहीं भी आपको यदि अपने देश का झंडा असम्मानजनक या आपत्तिजनक स्थिति में दिखाई दे तो उसे यथाशीघ्र वहां से उठा कर अपने संरक्षण में ले लें। देश का राष्ट्रीय – ध्वज लावारिस नहीं है, हम सबका उत्तरदायित्व है कि हम अपने देश के झंडे के साथ एक अवधायक की भांति व्यवहार करें।


5. जैसे हम अपने लिए अच्छे से अच्छा वस्त्र खरीदने की रुचि रखते हैं उसी प्रकार हमें झंडे का कपड़ा भी अच्छे से अच्छी गुणवत्ता का लेना चाहिए। खादी के कपड़े को वरीयता देनी चाहिए। ऐसा करने से भी हमारा देश और झंडे के प्रति सम्मान और समर्पण झलकता है।


6. देश का झंडा कहीं भी दिखे तो सर्वप्रथम उसका अभिवंदन(सैल्यूट) करें। झंडे को सम्मान देने का यह उत्तम ढंग है और यदि झंडा भारत का है तो हमारे देशवासियों को साथ में “जय हिन्द” या “भारत माता की जय” बोलना चाहिए तो सोने पे सुहागा हो जाएगा।


7. अंततः, कहना चाहूंगा कि, यदि आप अपने देश के झंडे को आदर – सम्मान देना चाहते हैं तो अपने देश के झंडे को का अपने कार्यालय, अपने घर या कार्यालय के बगीचे में, आदि में लगा सकते हैं। इसके अतिरिक्त आप देश से संबंधित विशेष अवसरों पर अपने देश के झंडे के बिल्ले को अपने सीने के बायीं ओर कुर्ता – कुर्ती, कमीज या टी – शर्ट के ऊपर लगा सकते हैं।


देश के झंडे के प्रति हमारा समर्पण हमारी देशभक्ति को दर्शाता है। इसका सम्मान करें।
धन्यवाद 

🙏

Leave a comment